मधुबनी : अंधराठाढी में जन कवि चन्दा झा स्मृति पर्व समारोह धुमधाम से मनाया गया

मधुबनी : अंधराठाढी में चन्दा झा स्मारक संरक्षण समिति द्वारा रविवार को चन्दा झा स्मारक स्थल पर जन कवि चन्दा झा स्मृति पर्व समारोह धुमधाम से मनाया गया। कार्यक्रम कवीश्वर चन्दा झा की मूर्ति पर माल्यार्पण के साथ आरम्भ हुआ। हर वर्ष माघी सप्तमी के दिन चन्दा झा स्मृति समारोह का आयोजन किया गया है। समारोह में कविश्वर चंदा के कृतित्व व व्यक्तित्व पर चर्चा हुई। उनके मैथिली साहित्य के योगदान उनकी रचना कौशलता की विलक्षणता तथा उनके आदर्श व्यक्तित्व पर विद्वानों ने अपना पक्ष रखा।
तीन सत्र मे आयोजित कार्यक्रम के पहले सत्र में कविश्वर चंदा झा के साहित्य पर चर्चा की गयी। द्वितीय सत्र में कवि गोष्ठी तथा तृतीय व अंतिम सत्र में सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन किया गया। पहले सत्र के कार्यक्रम में आकाशवाणी दरभंगा के अखिलेश कुमार झा, रतीश चन्द्र झा, रामचंद्र झा, शिक्षक पं महेश झा तथा डा प्रो गीतानाथ झा ने चंदा झा के प्रति अपने विचार को रखा। अपने संबोधन में अतिथियों ने वाचस्पति मिश्र व चंदा झा को मिथिला का जाज्वल्यमान नक्षत्र घोषित किया और आह्वान किया कि इन दोनों मनिषियों की जयंती को पुरे मिथिला में समारोह पूर्वक मनाया जाना चाहिए। पं राजेन्द्र झा, हरिदेव झा, बालगोविन्द झा, प्रकाश नारायण मिश्र, सोहन मिश्र, संबोध नारायण मिश्र, शोभीकांत झा सज्जन आदि ने भी अपने विचार रखा।
दुसरे सत्र कवि गोष्ठी मे हरिदेव झा, अखिलेश कुमार झा, देवानन्द मिश्र, मुकेश कुमार झा व राघव रमण ने काव्य पाठ किया। मुकेश कुमार झा ने चंदा झा रचित मैथिली रामायण के पदावलियों का पाठ किया अन्य कवियों ने अपनी अपनी रचनाओं से श्रोताओं के मध्य छाप छोड़ी। दोनों सत्रों का संचालन राघव रमण ने किया। धन्यवाद ज्ञापन चंदा झा स्मारक निर्माण सह जयंती समारोह के संयोजक संबोध नारायण मिश्र ने किया।

Post a Comment

0 Comments