सुपौल : मझारी में माँ शारदे की पूजा अर्चना के दौरान लगी आग,प्रतिमा सहित पंडाल जलकर राख

सुपौल(निर्मली) : प्रखंड क्षेत्र के मझारी पंचायत स्थित वार्ड संख्या 07 के उत्क्रमित मध्य विद्यालय पश्चिमी में मनाए गए माँ शारदे की पूजा अर्चना के दौरान माँ की प्रतिमा स्थल के निकट आग लगने से प्रतिमा सहित बना पंडाल जलकर राख हो गया।हालांकि मौके पर उपस्थित विद्यालय के छात्र - छात्राओं ने आग को बुझाने की भरपूर कोशिश किया।किन्तु आग की लपेटे इतनी तेज थी कि छात्र-छात्राए आग पर काबू नही पा सका।
घटना को लेकर विद्यालय में पढ़ने वाले बच्चों के अभिभावक सहित पँचायत के ग्रामीण विद्यालय के शिक्षकों पर आग बबूला हो उठे।अभिभवाको का कहना था कि बच्चों द्वारा विद्यालय में विद्या की देवी माँ शारदे की प्रतिमा स्थापित कर पूजा अर्चना किया गया।किन्तु विद्यालय के शिक्षक विद्यालय से नदारद रहे।शिक्षको ने बच्चों द्वारा किये गए पूजा अर्चना में ससमय शामिल होना मुनासिब नही समझा।फलत: छोटे-छोटे बच्चों की नासमझी के कारण आगलगी की घटना घटित हुई है।शिक्षको के ऐसे व्यवहार से अभिभावक एवं ग्रामीण काफी दुखी है।आक्रोशित अभिभवाको एवं ग्रामीणों ने इसकी लिखित शिकायत शिक्षा विभाग के अधिकारियों से किये जाने की बात कही है।अभिभवाको का आरोप है कि सरस्वती पूजा के अवसर पर गुरुवार एवं शुक्रवार को विद्यालय में शिक्षकों की उपस्थिति अनिवार्य है या नही । क्या उक्त तिथि को शिक्षकों की उपस्थिति शिक्षक उपस्थिति पणजी पर दर्ज होता है या नही यह विचारणीय बिंदु है।ज्ञातव्य हो कि उक्त विद्यालय के प्रधान शिक्षक अमर कुमार राम एवं सहायक शिक्षक मिथिलेश कुमार,चितरंजन कुमार,मंजू देवी,अनिता देवी है।

Post a Comment

0 Comments