सुपौल में मानवता एक बार फिर से शर्मसार, महादलित परिवार के तीन सदस्यों की खूंटे से बाँधकर जमकर पिटाई

"DESK" सुपौल में एक  बार फिर से मानवता को शर्मसार करने वाली घटना सामने आई है।जानकारी अनुसार कुछ दबंगों ने एक ही परिवार के तीन सदस्य माता-पिता व बेटे को खूंटे में बांधकर पीटा है।दिलचस्प कि तो बात यह है दबंगों ने पांच घंटे से अधिक देर तक माँ-बाप सहित पुत्र को पीटा।किन्तु इनकी भनक प्रसाशन तक को नही लगी।जब इसकी सूचना मिली तो वहां पुलिस पहुंची और कार्रवाई की है।इधर सोशल मीडिया पर बंधक बनाकर पीटने का फोटो और वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है।मामले को लेकर पुलिस का कहना है कि दबंगो के ऊपर कार्रवाई की जा रही है।मामले में जिस किसी का भी संलिप्तता हो किसी भी  बख्‍शा नहीं जाएगा।
दरसल मामला सुपौल जिले के भपटियाही थाना क्षेत्र अंतर्गत सदानंदपुर गांव का है।मामले का उजागर होते ही  प्रशासनिक खेमे में हलचल मच गया, जब पता चला कि एक ही परिवार के तीन लोगों को कुछ दबंगो ने जानवरों की तरह बाँध कर बुरी तरह पीटा जा रहा है।सूत्रों के मुताबिक दबंगों ने वार्ड नंबर एक में भूदान की जमीन को लेकर हुए विवाद में  महादलित परिवार के तीन लोगों को खूंटे में बांधकर उन्‍हें लाठी-डंडे से बुरी तरह मारा-पीटा। मानवता को शर्मसार करने वाली इस घटना में महिला गंभीर रूप से जख्मी हो गयी है। उसका इलाज सरायगढ़ भपटियाही स्थित प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में कराया जा रहा है।
दबंगों ने बाप-बेटे को तो पांच घंटे से अधिक समय तक हाथ-पैर बांधकर पिटाई की। दुखद बात तो यह है कि सूचना मिलने पर भी पुलिस घटनास्‍थल पर चार घंटे बाद पहुंची।पुलिस को आता देख लोगों ने आनन-फानन में खूटे में बंधे बाप-बेटे को खोल दिया। मामले की गंभीरता को देखते हुए मौके पर थाना अध्‍यक्ष प्रभाकर भारती के साथ प्रखंड विकास पदाधिकारी अरविंद कुमार भी पहुंच गए। दोनों अफसरों ने इस मामले में ग्रामीणों से पूछताछ की। इस बाबत थाना अध्यक्ष प्रभाकर भारती ने बताया कि मामले की छानबीन की जा रही है। घायलों को इलाज के लिए अस्‍पताल में भर्ती कराया गया है। लोगों से पूछताछ की जा रही है। जल्‍द ही दोषियों को गिरफ्तार कर कार्रवाई की जाएगी।

Post a Comment

0 Comments